Description of the Book:
 

कविताओं से मेरा रिश्ता निजी है। शायद हर कवि या लेखक का अपनी कविता या रचना से ऐसा ही नाता होता है। दूसरों के लिखे में भी मैं हमेशा अपना कुछ खोजता रहता हूं। कविताओं में अक्सर बहुत सुंदर कहानियां छुपी होती हैं। ऐसी ही कहानियों की तलाश में मैं एक दिन बहुत दूर निकल गया। मैं हमेशा से क्षितिज के उस पार पहुंच कर वहां की दुनिया देखना चाहता था। मेरी कहानियों की तलाश मुझे क्षतिज के उस ले गईं, पर अब वो केवल कहानियां नहीं रह गई थीं। उन कहानियों ने कविताओं का रूप ले लिया था। इस संग्रह की कविताऐं मुझे क्षितिज पार मिलीं हैं। इसलिए पाठकों को इन कविताओं में से कहानियों की खुशबू आ सकती है।

क्षितिज पार

₹50.00Price
  • Author Name: Nitish Chandra
    About the Author:
    Book ISBN: 9789911305879