Description of the Book:

अक्सर जज्बात को जुबाँ से बयां करना बहुत मुश्किल होता है। इसलिए मैंने अपनी कलम का सहारा लिया है। ये किताब उन चंद जज्बातों को बयान करती हैं जो हमारे दिल में तो होती लेकिन हम उन्हें किसी से कह नहीं पाते। इस किताब में आपको आपका खोया बचपन भी मिलेगा और खोया इश्क भी। यहाँ माँ का प्यार भी है और गाँव की याद भी। यहाँ मोहब्बत भी है और बेवफाई भी। टूटे रिश्ते भी हैं और जुदाई भी। जिस नज़्म या जिस पक्त़ि में आपको ये एहसास हो की ये जज्बात आपके हैं और अल्फाज़ हमारे। बस उसी वक्त हमारी ये किताब का लिखना मुक्कमल हो जाएगा। तो आप हमारी किताब को अपना प्यार दीजिये और जरुर बताइए हमारे कौन से नज़्म ने आपके जज्बात को जाहीर किया है।

कुछ अल्फाज़ : मेरी कलम से...

₹50.00Price
  • Author's Name: Yamini Kumari
    About the Author: यामिनी बिहार के पटना जिले से ताल्लुकात रखती हैं। पेशे से तो ये software engineer हैं जिनका अधिकतर वक्त keyboard पे ही बितता है लेकिन इन्हें कलम और किताबों से बहुत प्यार है। इसलिए अक्सर खाली समय में ये अपने जज्बातों को पन्नो पे उतारती हैं। चाय इनकी मोहब्बत है और बारिश इनका इश्क़ । तो चलिए आज इस किताब के जरिये इनकी मोहब्बत और इश्क़ से रूबरू होते हैं ।
    Book ISBN: 9781005133559